देवराड़ा के ग्रामीणों ने की कूड़ा डम्पिंग जोन हटाने की मांग और श्रमदान कर किया रास्ते की मरम्मत और सुधारीकरण का कार्य

Share at

नवीन चन्दोला/थराली/चमोली।

आज बुधवार को नगर पंचायत थराली के अन्तर्गत वार्ड देवराड़ा के ग्रामीणों ने देवराड़ा वार्ड में स्थित नगर पंचायत थराली के वैकल्पिक कूड़ा डम्पिंग जोन में नगर का कूड़ा नहीं डाले जाने के सम्बन्ध में एक बैठक का आयोजन किया,जिसमें कूड़ा डम्पिंग जोन अन्य स्थान पर बनाए जाने के सम्बन्ध में वार्ता की गई जिसमें ग्रामीणों ने कूड़ा डम्पिंग जोन हटाने और देवराड़ा गांव को नगर पंचायत थराली से हटाने की भी मांग की हैं।

आज बुधवार को देवराड़ा गांव के ग्रामीणों ने श्रमदान कर श्मशान घाट वाले रास्ते का मरम्मत का कार्य भी शुरू कर दिया हैं। वन पंचायत देवराड़ा के सरपंच बीरेंद्र सिंह रावत का कहना है कि पूर्व में भी कई बार नगर पंचायत थराली के अधिकारियों तथा जनप्रतिनिधियों से इस सम्बन्ध में वार्ता की गई थी और पत्राचार भी किया गया था, जिसमें आश्वासन दिया गया था कि जल्द यहां से कूड़ा डम्पिंग जोन अन्य स्थान पर बनाया जाएगा और यहां पर कूड़ा नहीं डाला जाएगा,

लेकिन आजतक भी कूड़ा डम्पिंग जोन नहीं बनाया गया है और हमारे वार्ड देवराड़ा में कर्णप्रयाग -थराली- ग्वालदम राष्ट्रीय राजमार्ग के समीप कूड़ा डाला जा रहा है, साथ ही सीमा सड़क संगठन (B.R.O.) के द्वारा सड़क चौड़ीकरण के कार्य के दौरान श्मशान घाट जाने का रास्ता और अन्य कई पैदल रास्ते भी टूट गए थे, जिसके सम्बन्ध में B R O के अधिकारियों से पत्राचार के माध्यम से सड़क चौड़ीकरण के दौरान टूटे रास्तों को बनाने की मांग की थी, लेकिन आजतक भी श्मशान घाट का रास्ता और अन्य रास्ते नहीं बनाए गए हैं,

जिस कारण ग्रामीण आज श्रमदान कर स्वयं श्मशान घाट जाने वाला रास्ता बना रहे हैं। महिला मंगल दल अध्यक्ष गौरी देवी का कहना है, हमारे वार्ड में पूरे नगर पंचायत थराली का कूड़ा नहीं डाला जाना चाहिए और हम नगर पंचायत थराली से अलग होकर ग्राम पंचायत में शामिल होना चाहते हैं, जिसका कारण हमें बीते पांच वर्षों में मूलभूत सुविधाओं जैसे- रास्ते, नालियां, स्वच्छता आदि से वंचित रखना है, इसलिए हम नगर पंचायत में नहीं रहना चाहते हैं।

इस अवसर दरबान सिंह,नैन सिंह,लाल सिंह,भगत सिंह, जयशंकर प्रसाद, सरिता देवी, मुन्नी देवी,खगोती देवी, सीमा देवी, अनिता देवी,कमला देवी, मुन्नी देवी, बिमला देवी, शान्ति देवी आदि ग्रामीण उपस्थित रहे।

You may have missed