05/02/2023

सशक्त एवं शिक्षित नारी,बेहतर समाज के निर्माण मे सहायक

Share at


सशक्त एवं शिक्षित नारी,बेहतर समाज के निर्माण मे सहायक 

राजेन्द्र असवाल/केदारखण्ड एक्सप्रेस

पोखरी। अंतर्राष्टीय महिला दिवस के अवसर पर स्नातकोत्तर महाविद्यालय मे जन्तु विज्ञान विभाग ने देर शायं तक चले महिला सशक्तिकरण कार्यक्रम के अंतर्गत “संतुलित भविष्य  के लिए लैंगिक समानता” विषय पर एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया।  संगोष्ठी की अध्यक्षता प्राचार्य डॉ० महेंद्र सिंह चौहान ने की। कार्यक्रम की संयोजिका जन्तु विज्ञान विभाग की प्रभारी डॉ० कंचन सहगल ने आगंतुकों का स्वागत करते हुए संगोष्ठी के विषय वस्तु पर विस्तार से प्रकाश डाला।  डॉ० सहगल ने वर्तमान समय में लैंगिक समानता की आवश्यकता बताते हुए कहा की समाज में लोगों को कन्या भ्रूण हत्या, महिला साक्षरता तथा महिलाओं के साथ होने वाले अपराधों के प्रति  जागरूकता  लाने की आवस्यकता है।  

एक शिक्षित और सशक्त नारी स्वस्थ समाज के निर्माण में बेहतर भूमिका निभा सकती है।  कार्यक्रम को  डॉ०  सुनीता मेहता , डॉ० शशि चौहान, डॉ० अंशु सिंह, डॉ० नंदकिशोर चमोला, डॉ० संजीव जुयाल, डॉ० अभय श्रीवास्तव एवं डॉ० उपेंद्र चौहान उपस्थित थे। इस अवसर पर वक्ताओं ने अपने संभाषणों से विद्यार्थियों को लैंगिक असमानता के कारणों, एवं महिलाओं के प्रति अपराध को बढ़ावा देने वाली सामाजिक कुरीतियों का जिक्र करते हुए उन कुरीतियों के उन्मूलन हेतु आगे बढ़ने का आह्वाहन किया।  

कार्यक्रम में डॉ०  सुनीता मेहता, डॉ०  कीर्ति गिल, डॉ०  अंशु सिंह , डॉ० शज़िआ सिद्दीकी एवं डॉ० आरती रावत ने मंच साझा करते हुए अपने अपने विचार रखे।  महाविद्यालय की छात्राओं अंजलि रावत , कल्पना,  श्रेष्ठा , प्रीति एवं सलोनी ने अपनी कविता एवं सम्भाषण के माध्यम से महिलाओं के अधिकारों के प्रति जागरूक किया।  कार्यक्रम में डॉ०  अंजलि रावत, डॉ०   प्रियंका, डॉ०  सुमनलता, डॉ०  सोनी, डॉ०  अंजना , डॉ०  जगजीत सिंह, डॉ०  हरिओम , डॉ०  रामानंद उनियाल, डॉ० प्रेम सिंह राणा  आदि उपस्थित्त थे। फ़ोटो सलंग्न

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed