31/01/2023

दस दिवसीय सत्यापन अभियान के पहले 06 दिवसों में जनपद रुद्रप्रयाग पुलिस द्वारा किये गये हैं अब तक कुल 767 सत्यापन।

Share at

 दस दिवसीय सत्यापन अभियान के पहले 06 दिवसों में जनपद रुद्रप्रयाग पुलिस द्वारा किये गये हैं अब तक कुल 767 सत्यापन।

केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज़

पुलिस अधीक्षक, रुद्रप्रयाग आयुष अग्रवाल द्वारा दिये गये निर्देशों के क्रम में जनपद के सभी थाना चौकियों के स्तर से 10 दिवसीय सत्यापन अभियान चलाया जा रहा है। दिनांक 21 अप्रैल, 2022 से चलाये गये इस सत्यापन अभियान के अब तक के 06 दिवसों में जनपद रुद्रप्रयाग पुलिस के स्तर से 666 मजदूर, 72 रेडी/ठेली वाले, तथा 29 किरायेदारों का सत्यापन किया गया है। हालांकि जनपद में अब तक के सत्यापन अभियान अवधि में कोई भी संदिग्ध व्यक्ति प्रकाश में नहीं आया है। जनपद रुद्रप्रयाग पुलिस के स्तर से आगामी केदारनाथ धाम यात्रा के दृष्टिगत सत्यापन अभियान निरन्तर चलाया जायेगा। 

साथ ही जनपद रुद्रप्रयाग पुलिस जनपद के स्थानीय लोगों से अपील करती है कि, वे भी अपने घरों, प्रतिष्ठानों या किराये पर रखे बाहरी व्यक्तियों का नजदीकी पुलिस स्टेशन के माध्यम से सत्यापन की कार्यवाही करें, चूंकि जनपद पुलिस द्वारा अब तक बाहरी व्यक्तियों का सत्यापन करते हुए किसी भी स्थानीय व्यक्ति का चालान नहीं किया गया है, परन्तु अब ऐसा नहीं होने जा रहा, यदि किसी व्यक्ति के स्वामित्व वाली जगह अथवा मकान या प्रतिष्ठान इत्यादि में कोई बाहरी व्यक्ति बिना सत्यापन के रहता हुए पाया जायेगा तो ऐसे में सम्बन्धित बाहरी व्यक्ति के सत्यापन की कार्यवाही तो पुलिस करेगी ही परन्तु उसको शह दे रहे स्थानीय व्यक्ति का चालान किया गया जायेगा।

किये जाने वाले चालान की जुर्माना राशि रुपये 10000 तक हो सकती है। इसलिए न केवल पुलिस के चालान की डर से अपितु अपनी स्वयं की सुरक्षा के लिहाज से बाहरी व्यक्तियों का स्थानीय पुलिस के माध्यम से सत्यापन अवश्य करायें। सत्यापन हो जाने की दशा में कोई भी बाहरी व्यक्ति जो कि, किसी भी कुत्सित मंसूबे या अपराध करने के इरादे से आया हो तो उसका मंसूबा किसी भी दशा में पूरा नहीं हो सकता। 

यदि किसी को लगता है कि, कौन जाये नजदीकी पुलिस के पास, तुरन्त उत्तराखण्ड पुलिस की वेबसाइट https://uttarakhandpolice.uk.gov.in/ पर जायें, सत्यापन सम्बन्धी ऑप्शन है वहां पर और अपने स्तर से ही बाहरी व्यक्ति का सत्यापन करायें। 

इसलिए जागरुक रहें, सतर्क रहें और सुरक्षित रहें। 

किसी भी प्रकार की पुलिस सहायता के लिए डायल 112 डायल करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed