28/01/2023

जंगल में आग लगाते हुए चार स्कूली छात्रों को रंगे हाथ पकडा वन विभाग ने, मुकदमा दर्ज

Share at

 जंगल में आग लगाते हुए चार स्कूली छात्रों को रंगे हाथ पकडा वन विभाग ने, मुकदमा दर्ज

केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज़ 

रूद्रप्रयाग। जंगल में आग लगाने के आरोप में वन प्रभाग ने जखोली के चोपड़ा गांव के चार छात्रों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। छात्रों द्वारा पांजणा क्षेत्र के जंगल में आग लगाकर करीब एक हेक्टेयर वन संपदा को नुकसान पहुंचाया गया है। प्रभागीय क्षेत्र में अभी तक वनाग्नि की 30 घटनाएं हो चुकी हैं, जिसमें 31.08 हेक्टेयर वन क्षेत्र जलकर राख हो चुका है।

रुद्रप्रयाग प्रभाग के जखोली रेंज के अंतर्गत विभागीय टीम ने गश्त के दौरान पांजणा क्षेत्र में चार स्कूली छात्र जंगल में आग लगाते हुए पकड़े। डीएफओ वैभव कुमार सिंह ने बताया कि चोपड़ा गांव निवासी आरोपी चारों छात्रों के खिलाफ वन अधिनियम 1927 के तहत मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाई अमल लाई गई है। बताया कि जंगल में आग लगाते हुए पकड़े जाने वालों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। बताया कि वनाग्नि की घटनाओं को रोकने के लिए प्रभागीय क्षेत्र में दस सचल दस्ते गठित किए गए हैं, जिसमें छह-छह वन कर्मी शामिल हैं। साथ ही 29 क्रू-स्टेशन स्थापित किए गए हैं, जिसकी मदद से आसपास के क्षेत्रों में वनाग्नि की घटना पर तत्काल कार्रवाई की जा रही है। इसके अलावा प्रभागीय स्तर पर मोबाइल एप और गूगल मैपिंग के जरिए भी सभी सात रेंजों में वनाग्नि की घटनाओं की जानकारी मिल रही है, जिसके तहत टीमें मौके पर भेजी जा रही है। डीएफओ ने बताया कि चीड़ प्रभावित जंगलों में पिरूल को साफ करने ब्लूअर और कंप्रेशर का उपयोग किया जा रहा है। फायर सीजन में अभी तक प्रभागीय क्षेत्र वनाग्नि की 30 घटनाएं हो चुकी हैं, जिसमें 31.08 हेक्टेयर वन संपदा को नुकसान पहुंचा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed