09/02/2023

‘रोड नहीं तो वोट नहीं’ नारे के साथ अनिश्चितकालीन प्रदर्शन

Share at

 

रोड नहीं तो वोट नहीं’ नारे के साथ अनिश्चितकालीन प्रदर्शन, 


नवीन चंदोला/केदारखण्ड एक्सप्रेस

नगर पंचायत थराली के भेटा वार्ड में स्थानीय लोग बीते लंबे समय से सड़क की मांग करते आ रहे हैं. आज उनके सब्र का बांध टूट गया और सरकार के खिलाफ मुट्ठी तान ली. इस दौरान उन्होंने ‘रोड नहीं तो वोट नहीं’ नारे के साथ प्रदर्शन किया. इतना ही नहीं तहसील परिसर में अनिश्चितकालीन धरना-प्रदर्शन भी शुरू कर दिया है. उन्होंने सड़क की मांग को लेकर उप जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को ज्ञापन भेजा. साथ ही जल्द सड़क निर्माण न होने पर चुनाव बहिष्कार करने की चेतावनी भी दी.

सोमवार को थराली नगर पंचायत के अंतर्गत भेटा वार्ड के लोगों ने थराली से भेटा तक सड़क निर्माण की मांग को लेकर सरकार और क्षेत्रीय विधायक के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. साथ ही थराली मुख्य बाजार से केदारबगड़ होते हुए तहसील कार्यालय तक जुलूस निकाला. इसके बाद तहसील कार्यालय परिसर में जमकर नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया और धरने पर बैठ गए.आंदोलनकारियों का कहना है कि बीते कई दशकों से भेटा के ग्रामीण गांव को सड़क से जोड़ने की मांग शासन और प्रशासन से करते आ रहे हैं. बावजूद इसके आज तक भेटा तक सड़क का निर्माण नहीं हो सका है. उन्होंने बताया कि थराली से पूर्व विधायक मगन लाल शाह के कार्यकाल के दौरान नासिर बाजार थराली से भेटा तक 800 मीटर सड़क के निर्माण के लिए 42 लाख रुपए की वित्तीय स्वीकृति भी मिल चुकी है, लेकिन आज तक सड़क का निर्माण कार्य शुरू नहीं हो पाया हैं,

उन्होंने कहा कि सड़क निर्माण नहीं होने के कारण क्षेत्रवासियों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. उन्होंने कहा कि जब तक सड़क निर्माण का कार्य शुरू नहीं होता है, तब तक उनका धरना जारी रहेगा. इसके बाद आंदोलनकारियों ने मुख्यमंत्री के नाम एक ज्ञापन थराली के उप जिलाधिकारी सुधीर कुमार को सौंपा. ज्ञापन में जल्द निर्माण कार्य शुरू नहीं किए जाने पर आंदोलन तेज करने और चुनाव बहिष्कार की चेतावनी दी है. जिसमें सभासद भेटा बसंती रावत, गोदांबरी रावत, संदीप रावत, सुशील रावत, मनोज रावत, तथा लगभग गांव के 60 से अधिक लोग आंदोलन पर बैठे हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed