31/01/2023

फायर सर्विस रुद्रप्रयाग द्वारा MAX कंपनी नरकोटा में किया किया अग्निशमन जागरूकता अभियान व अग्निशमन सम्बन्धी प्रशिक्षण।

Share at

 फायर सर्विस रुद्रप्रयाग द्वारा MAX कंपनी नरकोटा में किया किया अग्निशमन जागरूकता अभियान व अग्निशमन सम्बन्धी प्रशिक्षण।

केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज़

अग्निशमन सेवा सप्ताह तीसरा दिन

आज दिनांक 16 अप्रैल 2022 को अग्निशमन सेवा सप्ताह के दूसरे दिन फायर स्टेशन रुद्रप्रयाग द्वारा MAX कंपनी नरकोटा में किया गया अग्निशमन जागरुकता अभियान व अग्निशमन सम्बन्धी प्रशिक्षण दिन प्रतिदिन बढ़ते तापमान से वनों में लगने वाली आग से होने वाले प्राकृतिक, आर्थिक, वन सम्पदा सम्बन्धी नुकसान के बारे में जानकारी देते हुए जागरूक किया गया साथ ही शॉर्ट सर्किट आदि वजहों से आग लगने पर क्या करें क्या न करें की विस्तृत जानकारी दी गई। 

प्रारंभिक अग्निशमन उपकरणों के संचालन की विधि के बारे में डेमो देखकर विस्तृत जानकारी दी गई जागरुकता पैम्पलेट भी बांटे गये। 

तत्पश्चात अग्निशमन केंद्र के द्वारा वन विभाग की टीम से समन्वय बनाकर जखोली क्षेत्र के मोर्ण गांव में जाकर गांव के समस्त लोगों को एकत्रित कर वन विभाग की टीम व अग्निशमन कार्मिकों के द्वारा संयुक्त रूप से ग्राम वासियों को जंगल की आग की रोकथाम हेतु जागरुक किया गया तथा वनों में लगने वाली आग से होने वाले प्राकृतिक, आर्थिक, वन सम्पदा सम्बन्धी नुकसान के बारे में जानकारी देते हुए जागरूक किया गया ग्राम वासियों को जागरूकता सम्बन्धित पम्पलेट वितरित किए गए। ग्राम वासियों ग्राम प्रतिनिधियों से यह अपील की गई जंगलों में आग की संख्या बढ़ रही है, इसका कारण बढ़ते तापमान के साथ ही मानव जनित भी है, जंगल को आग से बचाना हमारी जिम्मेदारी है, प्राथमिक तौर पर जंगल में लगी छोटी आग ही विकराल रूप धारण करती है। इसलिए जहां भी जंगल में छोटी आग भी दिखे उसे बुझा दें। जानबूझकर जंगलों में आग लगाना दण्डनीय अपराध है। उत्तराखण्ड फायर सर्विस जनपद रुद्रप्रयाग का सहयोग करें, जंगलों को बचाएं।

जंगल सुरक्षित तो आप सुरक्षित।

अग्निशमन टीम

प्रभारी अग्निशमन अधिकारी श्री देवेन्द्र सिंह चौहान

फायरमैन मनोज खत्री

चालक मोहन नेगी

वन विभाग टीम

वन दरोगा अनूप रावत

वन आरक्षी आशुतोष पुरोहित

वन आरक्षी कुलदीप।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed