09/02/2023

गढ़वाल तक पहुंची कुमाऊं के जंगलों की आग, 12 घंटे में आग की 22 घटनाएं

Share at

 गढ़वाल तक पहुंची कुमाऊं के जंगलों की आग, 12 घंटे में आग की 22 घटनाएं

केदारखण्ड एक्सप्रेस न्यूज़

हल्द्वानी। वातावरण में नमी और ठंडी हवाओं के चलते सोमवार को उत्तराखंड में जंगलों की आग पिछले कुछ दिनों से लगातार कम हो रही है। सोमवार को राज्यभर में 22 घटनाएं हुईं, जबकि पिछले सोमवार को 117 घटनाएं हुई थीं और इस सीजन का रिकॉर्ड भी था। इस सोमवार को 12 घंटे में 47 हेक्टेयर जंगल जले। इसके साथ ही अब तक 1618 हेक्टेयर जंगल जल चुके हैं। 

 कुमाऊं वन प्रभाग जौरासीं रेंज की आग गढ़वाल वन प्रभाग की दीवा रेंज में तक पहुंच गई है। पांच दिनों से ये आग फैली हुई है। लेकिन विभाग अब तक आग नहीं बुझा पाया है।  ग्रामीणों का कहना हैं कि विभाग वनाग्नि को लेकर कतई गंभीर नहीं है। उधर सिविल सोयम स्यूंसी रेंज के तहत आने वाले ककरोड़ा, बदाडू, रिखाड़, धोबिघाट के सिविल जंगलों में भी आग धधक रही है।

  सामाजिक कार्यकर्ता ध्यानपाल, शिब सिंह, मुकेश सिंह आदि ने बताया कि जंगलों में गुरुवार से आग लग गई थी परंतु विभाग समय पर नहीं पहुंच पाया। जिससे अब आग बेकाबू हो रही है।  ग्रामीणों ने यह भी बताया कि विभाग के पास आग बुझाने के प्रयाप्त संसाधन तक नहीं है।  

विभाग पेड़ों की हरी टहनियों से आग बुझाने का काम कर रहा है।  दीवा रेंज में लगी आग धीरे-धीरे जमरीय, सौपखाल की ओर बढ़ने लगी हैं। डीएफओ मुकेश कुमार ने बताया कि दीवा रेंज के जंगलों में आग पहुंचने की उन्हें सूचना नहीं है। चमोली और अल्मोड़ा की सीमा के जंगलों में भी आग: गैरसैंण। चमोली एवं अल्मोड़ा जनपद की सीमा पर स्थित लोहवा गढ़ी का जंगल दो दिन से जल रहा है।

अल्मोड़ा जनपद से लगी आग अब चमोली जनपद के लोहवा गढ़ी क्षेत्र के जंगलों में पहुंच गयी है। तेज हवाओं के चलने से आग एवं नेपाल के जंगल की ओर रूख कर रही है। चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डन ड्रोन लेकर आग बुझाने पहुंचे : देहरादून। ड्रोन फोर्स के हेड चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डन डॉ. पराग मधुकर धकाते सोमवार को खुद ड्रोन लेकर राजाजी पार्क में आग बुझाने पहुंचे।

  उन्होंने निदेशक के साथ हरिद्वार रेंज में ड्रोन उड़ाकर सही लोकेशन का पता लगाया।  इसके बाद वन कर्मचारियों संग जंगल की आग बुझाने में मदद की। वहीं राजाजी टाइगर रिजर्व पार्क क्षेत्र के मनसा देवी पर्वतमाला के जंगलों में लगी आग पर छह दिन बाद भी काबू नहीं पाया जा सका है। अब तक करीब 35 हेक्टेयर जंगल आग की चपेट में आ चुका है। आग पर काबू पाने के लिए एसडीआरएफ की टीम भी जंगलों में पहुंच चुकी है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed