28/01/2023

उक्रांद के प्रत्याशी मोहित डिमरी पर हुए हमले की विधायक भरत चौधरी ने की उच्चस्तरीय जांच की माँग

Share at


उक्रांद के प्रत्याशी मोहित डिमरी पर हुए हमले की विधायक भरत चौधरी ने की उच्चस्तरीय जांच की माँग

डैस्क : केदारखण्ड एक्सप्रेस

रूद्रप्रयाग। विधानसभा चुनाव प्रचार के आखिरी दिन 12 फरवरी की रात्रि को रुद्रप्रयाग विधानसभा में उत्तराखंड क्रांतिदल के प्रत्याशी मोहित डिमरी पर हुए हमले की भाजपा ने उच्चस्तरीय जांच की मांग की है। 

विधायक भरत सिंह चौधरी ने पुलिस अधीक्षक को भेजे पत्र में कहा है कि यूकेडी प्रत्याशी पर जवाड़ी बाईपास के समीप रात्रि को हमला होने की जानकारी मिली है। कहा कि यह मामला बहुत ही गंभीर है, जिसकी उच्चस्तरीय जांच की जानी चाहिए। उन्होंने पुलिस अधीक्षक से मामले की जांच करते हुए सभी पहलुओं को पारदर्शिता के साथ स्पष्ट करने की बात कही है। 

ता दें कि बीते 12 फरवरी को चुनाव प्रचार संपन्न होने के बाद रुद्रप्रयाग से अपने घर तिलवाड़ा-सुमाड़ी जाते समय यूकेडी प्रत्याशी पर जवाड़ी बाईपास पर मोटरसाइकिल सवार अज्ञात लोगों ने हमला कर दिया था। जिसके बाद पुलिस ने मामले में मुकदमा दर्ज कर जाँच शुरू कर दी थी। 


मोहित डिमरी पर हमले के पीछे अटकलों का बाजार गर्म


यूकेडी के प्रत्याशी मोहित डिमरी पर हुए हमले के पीछे कहीं तरह के अटकलों के बाजार भी गर्म हैं। एक तरफ जहां 1 सप्ताह बीत जाने के बाद भी पुलिस कि हाथ खाली नजर आ रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ कहीं लोग दबी जुबान यह भी चर्चा कर रहे हैं कि हो ना हो मोहित डिमरी ने खुद ही अपने ऊपर इस हमले को करवाया होगा। रुद्रप्रयाग के बाजारों गलियों में इन दिनों इस तरह की चर्चा आम हो गई है। जबकि विधायक भरत सिंह चौधरी ने भी  पुलिस अधीक्षक को सौंपे  अपने पत्र में इस हमले को तथाकथित शब्द दिया है। इससे यह बात स्पष्ट होती है कि भाजपा भी कहीं ना कहीं इस हमले को फर्जी हमला करार दे रही है। 

भाजपा द्वारा जन अधिकार मंच पर भी उठाए सवाल

उधर सोशल मीडिया में जन अधिकार मंच पर भी सवाल खड़े किए जा रहे हैं। क्षेत्र पंचायत सदस्य भूपेंद्र भंडारी ने फेसबुक पर पोस्ट करते हुए लिखा है यूकेडी के प्रत्याशी व जन अधिकार मंच के अध्यक्ष पर इतना बड़ा हमला होने के बाद भी जन अधिकार मंच आखिर खामोश क्यों है? जबकि जन अधिकार मंच जनपद की हर छोटी-बड़ी समस्याओं पर पैनी नजर रखता है। उन्होंने यह भी लिखा है पूर्व कैबिनेट मंत्री व निर्दलीय प्रत्याशी मातबर सिंह कंडारी ने सीधे तौर पर इस हमले को कांग्रेस प्रत्याशी प्रदीप थपलियाल को जिम्मेदार ठहराया था

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed